देश का हाल…

कैसा ये देश का हाल है
बड रहा भ्रष्टाचार है
इस भाग दौड कि भीड मे
आम आदमी बेरोजगार है

न जाने कितने झगडे है
न जाने कितने दंगे है
इन दंगो मे, इन झगडो मे
ना जाने कितने मसले है

हर कोई याह पे दंग है
लहू का कोनसा रंग है
इस जाती और धर्म मे
ना जाने कोनसी जंग है…

शहिदो ने जो दि कुर्बानी
वो भी आज ये सोचते होंगे
देख कर देश का हाल वाह पर
फूट-फूट कर वो रोते होंगे

सोना उगाती थी जो धरती
आज बन गयी शमशान है
आज फिर से एक सवाल है उठता
क्या सच मे मेरा देश महान है….

…अश्वजीत कदम

Advertisements
Posted in love, motivational, Nature, Uncategorized

बरसात का मौसम

दिल को खूब भाता है
जब प्यार भरे इस सावन मे
तन मन भिग सा जाता है
थंडी हवा के झोके
जब दिल को छू सी जाती है
दिल के पन्नो मे भी
एक साजगी सी छा जाती है
जब याद किसी अपने कि
इस दिल को धीरे धीरे आती है
अश्वजीत कदम….

Posted in Nature, Uncategorized

जिंदगी ओ जिंदगी…

जिंदगी ओ जिंदगी तू है साली बडी कमीनी…
हर मोड पे है तेरी एक अलग हि कहानी.

जितना समझना चाहू तुझे
तू ऊतनी हि उलाजती जाये
हर एक मोड पे ना जाने,
क्या क्या रंग देखाये.

जिंदगी ओ जिंदगी तू है साली बडी कमीनी…

हर एक शिखर पर, पूछे एक नयी पहेली
सुख और दुःख है दोनो तेरी पक्की सहेली
हर वक्त से है तू बेखौफ, हार सफर से है अंजानी
हर पल करे तू अपनी ही मन-मानी

जिंदगी ओ जिंदगी तू है साली बडी कमीनी

…अश्वजीत कदम

Posted in love, motivational, Nature, Uncategorized

चाय…..

सबको लुभाती
मुड बनाती
दिल को भाती
है मस्तानी ये चाय
इसके बिना ना दिन कि शुरुवात हो
इसके बिना ना एक पल भी आराम हो
जिंदगी बस थम सी हे जाती.
………………अश्वजीत कदम

 

Posted in love, Uncategorized

एक चेहरा…

आज अंजानो के भीड मे,
कोई एक चेहरा नजर आया;
सिर्फ एक ही झलक मे,
पुरानी सारी यादे ताजा कर गया.

……………….अश्वजीत कदम

Posted in love, Uncategorized

प्यार……

सावन की रिम झीम बूंदो मे

मौसूम के बहते सावन मे

कोई दिल को दस्तक़ देता है

और चुप के से दिल मे समाता है

रात धीरे धीरे ढलती है

और तनहाई छा जाती है

जब आंखो के इन खिडकी मे

कोई सपना बनके आता हैं

कोई धीरे धीरे सारी रात

एक मीठा दर्द दे जाता है

पर उन सपनो वाली गलियों मे

वो दर्द हमें खूब लुभाता हे

उस मीठे वाले दर्द मे भी

उन सपनो के मीठास मे भी

ना कोई दर्द हमें सताता है

जब हमें प्यार किसी पे आता हे।

…….. अश्वजित कदम

Posted in love, Uncategorized

चिट्टी

एक छोटे से लिफाफे मे आया करती थी

खुशियों की सौग़ात लाया करती थी

सभी मुझे प्यार से सराहा करते थे

प्यार से मुझे लोग चिट्टी कहा करते थे

दूर देश से मैं आया करती थी

प्यार भरे सन्देश लाया करती थी

मुझे देखकर लोग झूमते थे

प्यार से लोग मुझे चूमते थे

पर आज मै कही खो गई हु

लोगो के दिलो से भुला दी गयी हु

लोग इंटरनेर पे हमेशा डूबे रहते है

पास ही रहते है….और

फेसबुक, व्हाट्सप्प और ट्विटर पे

चैट किया करते है

अश्वजित कदम ……..